अमूल माचो ने लगाया लक्स इंडस्ट्रीज के एड पर नकल का आरोप, ASCI में शिकायत की

ENTERTAINMENT NATIONAL

नई दिल्ली| विज्ञापन की नक़ल के लिए लक्स इंडस्ट्रीज के खिलाफ लगा बड़ा आरोप| माचो ब्रांड से अंडरवियर और गंजी बेचने वाली जे जी होजिरी ने भारतीय विज्ञापन मानक परिषद (ASCI) के समक्ष उसके विज्ञापन की कथित तौर पर नकल करने को लेकर लक्स इंडस्ट्रीज के खिलाफ शिकायत की है| जे जी होजियरी ने आरोप लगाया कि अमूल माचो का ‘टोइंग’ विज्ञापन की लक्स इंडस्ट्रीज ने अपने लक्स कोजी के लिये टेलीविजन पर दिये विज्ञापन में नकल की है|

कोलकाता की लक्स इंडस्ट्रीज ने अपने लक्स कोजी अंडरवियर, बनियान प्रोडक्ट के विज्ञापन के चेहरे के रूप में अभिनेता वरूण धवन को लेकर नया विज्ञापन शुरू किया है|

भारत की अमूल माचो कंपनी ने विज्ञापन पर

कच्छे और बनियान के एक विज्ञापन पर रार मच गया है। स्थिति यहां तक बिगड़ गई है कि एक कंपनी ने अपने प्रतिद्वंद्वी कंपनी की शिकायत सेल्फ रेगुलेटरी आर्गनाइजेशन एडवर्टाइजिंग स्टेंडर्ड काउंसिल ऑफ इंडिया (ASCI) कर दी है। हालांकि प्रतिद्वंद्वी कंपनी का कहना है कि उनका विज्ञापन किसी की नकल नहीं है।

यह है मामला

माचो ब्रांड से अंडरवियर और गंजी (बनियान) बेचने वाली जे जी होजरी (JG Hosiery) ने 6 सितंबर को कहा कि उसने एडवर्टाइजिंग स्टेंडर्ड काउंसिल ऑफ इंडिया (ASCI) के पास उसके विज्ञापन की कथित तौर पर नकल करने को लेकर लक्स इंडस्ट्रीज के खिलाफ शिकायत की है। जे जी होजियरी ने आरोप लगाया है कि अमूल माचो का ‘टोइंग’ विज्ञापन की लक्स इंडस्ट्रीज ने अपने लक्स कोजी के लिये टेलीविजन पर दिये वाणज्यिक विज्ञापन में नकल की है। कोलकाता की लक्स इंडस्ट्रीज ने अपने लक्स कोजी कच्छा, बनियान के लिये अभिनेता वरूण धवन को लेकर नया विज्ञापन शुरू किया है। जे जी होजिरी ने बयान में कहा कि लक्स कोजी ब्रांड ने कंपनी के अमूल माचो ‘टोइंग’ विज्ञापन को ‘स्पष्ट रूप से नकल’ किया है। कंपनी ने यह विज्ञापन पहली बार 2007 में जारी किया था। इसमें कहा गया है जे जी होजरी ने इस बारे में शिकायत की है और एएससीआई ने आगे की प्रक्रिया के लिए कंपनी की शिकायत को स्वीकार कर लिया है।

आरोप से किया इंकार

हालांकि लक्स इंडस्ट्रीज ने आरोप से इनकार करते हुए कहा है कि उसकी प्रतिद्वंदी कंपनी को टेलीविजन पर आ रहे विज्ञापन की सफलता से खतरा महसूस हो रहा है। उसने एक बयान में कहा, ‘‘हमारा टीवी पर जारी वाणिज्यिक विज्ञापन मूल विचार पर आधारित है और उसे हमारी ‘क्रिएटिव एजेंसी’ ने तैयार किया है। यह नकल किये गये विचार पर आधारित नहीं है। हमें लगता है कि हमारे विज्ञापन की सफलता से प्रतिस्पर्धी कंपनी को खतरा महसूस हो रहा है और वह निराधार आरोप लगा रही है।’’

Leave a Reply