तालिबान वहीं कर रहा है जो भगत सिंह ने किया: अनएकेडमी के शिक्षक ने दिया विवादित बयान

EDUCATION NATIONAL Uncategorized

नई दिल्ली| भारत में ऑनलाइन परीक्षा की पढ़ाई कराने वाले ‘अनएकेडमी’ के ‘शिक्षक’ अनिल खन्ना ने भगत सिंह की तुलना तालिबान से कर दी है। खन्ना ने एक वीडियो में कहा है कि आजादी से पहले भारत और भगत सिंह वही कर रहे थे जो तालिबान कर रहा है। अनएकेडमी के ‘टॉप फैकल्टी’ कहे जाने वाले अनिल खन्ना ने तालिबान पर विचार रखते हुए कहा है: “तालिबान को हम सभी गाली देते हैं। अगर देखा जाए हम भारतीय क्या कर रहे थे, जब ब्रिटिश यहाँ थे? भगत सिंह क्या कर रहे थे? वो मेरे हीरो हैं। वो भी यही कर रहे थे जो तालिबान कर रहा है।” व्याख्यान में उन्होंने तालिबान का महिमामंडन किया है। इस तुलना ने भगत सिंह के चाहने वालों की भावनाओं को भड़काने के साथ ही इस्लामी आतंकियो द्वारा की गई यातनाओं को पुनर्जीवित करने का काम भी किया है।

भारत में इतिहास के साथ वामपंथी इतिहासकारों की छेड़छाड़ किसी से छुपी नहीं है। आज़ादी के बाद भारत की शिक्षा व्यवस्था कम्युनिस्ट और इस्लामी विचारधारा वाले लोगों के हाथ में थी| उन्होंने बच्चों को तोड़-मरोड़ कर वही पढ़ाया, जो उनके अजेंडे पर फिट बैठती थी।

हालाँकि इस वीडियो के प्रकाश में आने पर अनिल खन्ना ने एक वीडियो जारी कर इस पर खेद भी प्रकट किया और यह कहते हुए क्षमा भी माँगी कि तालिबान की तुलना हमारे आजादी के नायकों से नहीं की जा सकती। अनिल खन्ना ने कहा कि यह मात्र एक चर्चा के बीच की गई बातचीत थी, लेकिन वो इसे लेकर माफ़ी माँगते हैं। अनिल खन्ना के इस बयान में सबसे पहली आपत्ति यह थी कि ‘लिबरल’ वर्ग भगत सिंह की तुलना ऐसे आतंकियो के साथ कर रहा है| जिनकी लड़ाई अपने मजहब के लिए है और जो महिलाओं, बच्चों की बर्बर हत्याओं से लेकर जघन्य ब्लात्कारों तक के जिम्मेदार हैं।

Leave a Reply