महाराष्ट्र में आई कोविड-19 की तीसरी लहर, फिर से लगेगी पाबंदियां

HEALTH STATE

मुंबई| महाराष्ट्र में कोरोना से जुड़ी सारी पाबंदियां खत्म होने के बाद कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों ने चिंता बढ़ा दी है. महाराष्ट्र के मंत्री नितिन राउत ने कहा है कि नागपुर में बहुत दिनों बाद दोगुने कोरोना पॉजिटिव मामलों पर आ गए हैं| कोरोना की तीसरी लहर का आगमन हो गया है| मंत्री राउत ने कहा कि जल्द ही कोविड आपदा प्रबंधन बल की बैठक होगी| कुछ पाबंदियां लगाने का फैसला किया गया है लेकिन इसके बारे में जनता के प्रतिनिधियों के साथ चर्चा करके अंतिम फैसला लिया जाएगा| आगे कहा कि कोरोना की तीसरी लहर नागपुर पहुंच गई है| जिले में कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं| उन्होंने यहां अधिकारियों के साक्ष समीक्षा बैठक की| कहा कि स्थानीय प्रशासन कोविड से जुड़ी पाबंदियों का जल्द ही ऐलान कर सकता है| विदर्भ क्षेत्र में अगस्त माह में कोरोना के केस तेजी से नीचे आए थे. कई दिनों से इस क्षेत्र में कोरोना से जुड़ी एक मौत भी नहीं हुई| नागपुर जिले में 17 अगस्त से सारी पाबंदियां हटा ली गई थीं| महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में ही सितंबर के लगभग एक हफ्ते के समय में ही लगभग 2600 मामले रिपोर्ट हो चुके हैं| अगस्त के मुकाबले सितंबर में कोरोना संक्रमण में बढ़ोतरी ने बृहन्मुंबई महानगरपालिका की चिंता बढ़ा दी है| महाराष्ट्र में 6 सितंबर को कोरोना के 3,626 नए केस मिले| हालांकि 15 फरवरी के बाद ये सबसे कम आंकड़ा है| इन 24 घंटे के दौरान 37 कोरोना मरीजों की मौत हुई है| मगर सितंबर में कुछ जिलों में दोबारा संक्रमण बढ़े हैं| महाराष्ट्र में 6 सिंतबर को आए केस को मिलाकर अब तक 64,89,800 मरीजों के संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है| इनमें से 1,37,811 कोविड-19 मरीजों की मौत हुई है| 8 मार्च के बाद कोविड-19 से रोजाना सबसे कम मौत हुई हैं| पिछले 24 घंटों के दौरान 5,988 लोगों को संक्रमण मुक्त होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई. इसको मिलाकर महाराष्ट्र में अब तक 63,00,755 मरीज कोरोना महामारी से उबर चुके हैं| महाराष्ट्र में 47,695 कोरोना मरीजों का इलाज चल रहा है| महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भी लोगों से कह चुके हैं कि कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है औऱ लोग सभी तरह की सावधानी बरतें|

Leave a Reply