गौशाला में असामाजिक तत्वों ने लगाई आग, 3 गर्भवती गायें जिंदा जली

STATE

पटना| बिहार की राजधानी पटना में कुछ असामाजिक तत्वों ने एक गौशाला में आग लगा दी। बताया जा रहा है की आग से गौशाला में बँधी तीन गर्भवती गायें जिंदा जल गईं। यह घटना 9 सितंबर के देर रात जक्कनपुर थाना इलाके के करबिगहिया पानी टंकी रोड स्थित एमएस गैस एजेंसी के नजदीक हुई। खटाल में आग लगाने की वारदात के बाद इलाके में तनाव बढ़ गया। हालाँकि समय रहते जक्कनपुर थानेदार मुकेश कुमार वर्मा दल-बल के साथ मौके पर पहुँच गए और मामले को शांत कराया। इस गौशाला का मालिक राजेश कुमार है। इसे वो पिछले दो-ढ़ाई सालों से चलाता आ रहा है। जब से खटाल खुला, उसके बाद से ही पास-पड़ोस के कुछ लोग वहाँ से खटाल को हटवाना चाहते थे। इस वजह से पहले कई बार झगड़ा भी हो चुका है। आशंका जताई जा रही थी कि विरोध करने वालों ने ही आग लगाई होगी।

राजेश का घर खटाल से कुछ दूर है। उन्होंने बताया कि 12 बजे मवेशियों की देखरेख करने के बाद वे वापस अपने घर चले गए थे। रात तक सब कुछ ठीक था। लेकिन, 10 सितंबर की सुबह में वहाँ का नजारा ही बदला हुआ था। पड़ोसिों ने राजेश को सूचना दी कि देर रात को किसी ने खटाल में आग लगा दी। जिसमें वहाँ मौजूद मवेशियों की जलकर मौत हो गई। इस वजह से वहाँ का माहौल ही बिगड़ने लगा था। जक्कनपुर के थानेदार मुकेश वर्मा ने वहाँ बिगड़ते हालत पर काबू पाया। सूत्रों में थानेदार के अनुसार आग कब और किन लोगों ने लगाई? इसका पता नहीं चल पाया है। नुकसान की भरपाई के लिए सीओ से बात की गई है। थाना पर ही वेटनरी कॉलेज के डॉक्टर को बुलाकर मरे हुए मवेशियों का पोस्टमार्टम कराया गया है और नियम कानून के अनुसार अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

मिली जानकारी में जक्कनपुर के थानेदार ने बताया कि आरोपित जहाँ कहीं भी होंगे, पुलिस उन्हें ढूँढ निकालेगी। आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की पड़ताल भी की जा रही है। पुलिस अपने स्तर से भी इस घटना को अंजाम देने वालों के बारे में जानकारी इकट्ठा कर रही है।

Leave a Reply