धर्मांतरण करवाने के मामलें में ATS ने किया मौलाना कलीम सिद्दीकी को गिरफ्तार

CRIME NATIONAL RELIGIOUS STATE

मेरठ| धर्मांतरण मामले में यूपी ATS ने मौलाना करीम सिद्दीकी को गिरफ्तार किया हैं| मिली जानकारी में एटीएस के महानिरीक्षक डॉ.जी.के गोस्वामी ने मिडिया एजेंसी पीटीआई को फोन पर बताया कि गिरफ्तारी 21 सितंबर की देर रात को की गई थी। हालांकि, एटीएस के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) ने गिरफ्तारी का कारण बताने से इनकार कर दिया। मौलाना कलीम सिद्दीकी ग्लोबल पीस सेंटर के अध्यक्ष हैं और जमीयत-ए-वलीउल्लाह के भी अध्यक्ष हैं| उनको मेरठ से गिरफ्तार किया गया है| बता दें कि इस मामले मे मुफ्ती काजी और उमर गौतम की गिरफ्तारी पहले ही हो चुकी है| दोनों से कलीम सिद्दीकी के लिंक मिले हैं. आरोप है कि विदेश से करोड़ों रुपये कलीम सिद्दीकी के खाते में आए थे| उन्होंने कहा कि इसकी जानकारी कुछ देर बाद लखनऊ में प्रेसवार्ता में दी जाएगी।

गौरतलब है कि मौलाना कलीम सिद्दीकी (64 वर्ष) मंगलवार शाम 7 बजे अन्य साथी मौलानाओं के साथ मेरठ के लिसाड़ीगेट में हूमायुंनगर की मस्जिद माशाउल्लाह के इमाम शारिक के आवास पर एक कार्यक्रम में आए थे। करीब रात नौ बजे इशा की नमाज के बाद वह अपने साथियों के साथ कार में फुलत के लिए निकले थे।

जानकारी अनुसार, इस दौरान परिजन ने उन्हें फोन किया लेकिन मोबाइल बंद मिला। परिजन ने जानकारी मेरठ में इमाम शारिक को दी। परिवार और परिचितों ने मौलाना की तलाश शुरू की, लेकिन जानकारी नहीं मिली। इसके बाद लोगों की भीड़ लिसाड़ीगेट थाने पर जुट गई। देर रात तक हंगामा चलता रहा। कुछ समय बाद जानकारी मिली की मौलाना को एटीएस ने हिरासत में ले लिया है। संदिग्ध गतिविधि के चलते सिद्दीकी सुरक्षा एजेंसी के निशाने पर थे। मौलाना के मेरठ आने की जानकारी एजेंसी को पहले से थी। उन पर कई धर्मांतरण कराने के आरोप हैं।

Leave a Reply