ढाका| बांग्लादेश में दुर्गा पूजा के दौरान हिंदुओं की हत्या और हिंसा की घटना के बाद पश्चिम बंगाल के सीमावर्ती इलाकों में अलर्ट जारी किया गया है. खुफिया विभाग ने बांग्लादेश से सटे जिलों के लिए यह अलर्ट जारी किया है. इसके मद्देनजर बांग्लादेश और भारत की सीमा पर सीमा सुरक्षा बल ने अपनी निगरानी बढ़ा दी है. बीएसएफ के जवान सीमा पर पूरी तरह से अलर्ट हैं और किसी तरह से घटना से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. बंगाल पुलिस को भी अलर्ट किया गया है. पुलिस ने सीमावर्ती इलाके में स्थानीय पुलिस को सतर्क रहने के लिए कहा है.

अलर्ट विशेष रूप से बांग्लादेश की सीमा वाले सभी जिलों के लिए है और इसने अधिकारियों से किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना से बचने के लिए अधिकारियों को संवेदनशील बनाने के लिए भी कहा है. यह अतिरिक्त महानिदेशक (खुफिया शाखा) द्वारा जारी किए गए डीजी, एडीजी और सभी एसपी और आयुक्तों को भेजा गया एक विस्तृत अलर्ट है.अलर्ट में कहा गया है, “यहां यह उल्लेख करना उचित है कि पश्चिम बंगाल में दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन पहले ही शुरू हो चुका है जो 18.10.21 तक जारी रहेगा और मुस्लिम त्योहार फतेहा-द्वाज-दहम (नबी दिवस) 18.10.21 और 19.10.21 को आयोजित होने वाला है.”

लिबरल्स है चुप

लिबरल्स गैंग और उदारवादी पत्रकार आज बांग्लादेश में हिंदुओं पर हो रहे अत्याचार पर मौन नज़र आते हैं| लेकिन जब बात आए बांग्लादेशी और पाकिस्तानी देश को भारत के मुकाबले बेहतर बताने की तो वह कोई कसर नहीं छोड़ते, भारत की जीडीपी और हंगर इंडेक्स को बांग्लादेश और पाकिस्तान से तुलना करने वाले आज हिंदुओ की प्रताड़ना पर चुप हैं| एक तरफ जहां लोगों की जान दाव पर लगी है वहीं मौन धारण कर लिबरल्स बैठे हुए हैं|

Leave a Reply