छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 20 सितंबर को दे सकते हैं स्तीफा?

CHHATTISGARH POLITICAL

रायपुर| देश के अलग-अलग राज्यों में बीते दिनों सीएम की बदली हुई, एक तरफ जहां पंजाब में कैप्टन अमरेंद्र सिंह के सीएम पद से इस्तीफा देने के बाद चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के नए सीएम बने| वहीं गुजरात में भाजपा के विजय रुपाणी ने भी इस्तीफा दिया और भूपेंद्र पटेल को नया सीएम घोषित कर दिया गया| इन सब मुख्यमंत्रियों के बदलने के पहले छत्तीसगढ़ राज्य में सीएम बदले जाने की अटकले लगाए जाए रहें हैं| सूत्रों से जो जानकारी मिल रही है उसके मुताबिक 19 सितंबर या 20 सितंबर को भूपेश बघेल द्वारा इस्‍तीफा देने की बात कही जा रही है। हालांकि इस संबंध में कांग्रेस की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

साल 2018 के 17 सितंबर को छत्तीसगढ़ में हुए चुनाव के परिणाम घोषित हुए जिसमें कांग्रेस को 72 सीटों के साथ जीत हांसिल हुई| यहीं से शुरू होता है सारा खेल, छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 72 सीटों के साथ जित तो हांसिल कर ली थी मगर सीएम के चेहरे पर फैसला नहीं किया गया था| इसके लिए 3 नाम सामने आए थे, जिनमें वर्तमान के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, स्वास्थ मंत्री बाबा टीएस सिंह देव और गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू का नाम था| अपने-अपने क्षेत्र में तीनों ही दमदार प्रतिनिधि रहे हैं| काफी अटकलें लगाई गयी और भूपेश बघेल का नाम सीएम पद के लिए सामने लाया गया| हालांकि भूपेश बघेल के पदभार करने से पहले ख़बर जरूर थी की 2.5 – 2.5 साल के सीएम की बात हुई है| मतलब पहले 2.5 साल पार्टी का पहला सीएम और 2.5 साल बाद पार्टी का दूसरा सीएम|

इसबार कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह ने राज्य में सीएम बदलने का खंडन किया है। टीएस सिंहदेव के समर्थकों का कहना है कि मुख्यमंत्री पद को लेकर ढाई-ढाई साल का समझौता हुआ था। निजी मिडिया से बात करते हुए बृहस्पति सिंह ने कहा, “सत्ता-बंटवारे के इस तरह के किसी भी फॉर्मूले पर कभी चर्चा नहीं हुई। क्या ऐसा कोई नेता ऑन रिकॉर्ड कह रहा है? भूपेश बघेल मुख्यमंत्री बने रहेंगे। वह पूरा कार्यकाल पूरा करेंगे। इसपर भाजपा अफवाह फैला रही है।”

आपको बता दें कि 2018 में जब कांग्रेस ने बीजेपी को 90 में से 68 सीटें जीतकर मात दी, उस वक्त मुख्यमंत्री पद के लिए चार दावेदार थे- भूपेश बघेल, टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू और चरणदास महंत। बहुत विचार-मंथन के बाद कांग्रेस के राहुल गांधी ने टीएस सिंहदेव और भूपेश बघेल को शीर्ष पर रखा और अंत में भूपेश बघेल को मुख्यमंत्री पद के लिए चुना।

सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस ने सीएम कार्यकाल को टीएस सिंहदेव और भूपेश बघेल के बीच 2.5 साल के शासन के साथ विभाजित करने पर सहमति व्यक्त की थी। भूपेश बघेल के अब अपने कार्यकाल में ढाई साल पूरे करने के साथ, टीएस सिंह देव ने पहले ही कांग्रेस को दो महीने के भीतर शीर्ष पद सौंपने के लिए सहमत फॉर्मूले के अनुसार कहा है। भूपेश सरकार फिलहाल अभी तक इसी मुद्दे पर बातों को रोके रखी है, जिसमें वह कहती है ऐसी कोई बात ही नहीं हुई|

आने वाले पार्टी के आधिकारिक बयान को देखना होगा की क्या वर्तमान सीएम भूपेश बघेल 5 साल के कार्यकाल को पूरा करेंगे की छत्तीसगढ़ को मिलेगा नया सीएम|

Leave a Reply