भाई प्रिंस राज पर लगे रेप के आरोप पर चिराग पासवान ने तोड़ी चुप्पी, कहा- ‘जो भी दोषी हो उसे सजा मिलनी चाहिए’, चिराग पर भी है आरोप

CRIME NATIONAL POLITICAL

नई दिल्ली| एलजेपी पार्टी के एमपी प्रिंस राज पर रेप के आरोप पर एफआईआर दर्ज हो चुकी, अब उनके भाई पार्टी प्रमुख चिराग पासवान ने मामलें पर चुप्पी तोड़ते हुए कहा की जो दोषी हो उसे सजा मिलनी चाहिए। 15 सितंबर को चिराग ने कहा उन्होंने कहा, ‘मैं पहला व्यक्ति हूं जिसने सलाह दी कि ये आपराधिक मामला है इसलिए पुलिस में जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि अपराधिक मामले में मैं जांच अधिकारी तो हूं नहीं की जांच करूंगा। लोजपा के नेता और सांसद चिराग पासवान ने कहा कि इस मामले में जो भी दोषी हो उसे सजा मिलनी चाहिए। दर्ज प्राथमिकी में चिराग पासवान का नाम होने पर उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि मैंने पहले भी कहा था यह मामला मेरे संज्ञान में आया था, तभी मैंने थाना जाने की सलाह दी थी। पटना में 15 सितंबर को पत्रकारों से चर्चा करते हुए खुद के नाम आने पर सफाई देते हुए चिराग पासवान ने कहा, ‘मेरा नाम एफआईआर में है क्योंकि उसमें लिखा है कि मुझे इस मामले की जानकारी थी और यह बात मैंने पहले ही मानी भी है कि वह मेरी जानकारी में थी।’

लोक जनशक्ति पार्टी सांसद प्रिंस राज ने रेप मामले में गिरफ्तारी बचने के लिए 14 सितंबर को दिल्ली की एक अदालत में अग्रिम जमानत याचिका दायर की और आरोप लगाया कि शिकायतकर्ता उनसे उगाही करने की कोशिश कर रही थी। प्रिंस राज की ओर से दाखिल अग्रिम जमानत याचिका पर बृहस्पतिवार को विशेष न्यायाधीश एमके नागपाल की अदालत में सुनवाई होने की संभावना है।

प्रिंस राज लोजपा संस्थापक दिवंगत रामविलास पासवान के भतीजे और चिराग पासवान के चचेर भाई हैं। वह इस समय बिहार के समस्तीपुर सीट से लोकसभा सदस्य हैं। अदालत के आदेश पर प्राथमिकी दर्ज होने के बाद प्रिंस राज ने अधिवक्ता नितेश राणा के जरिये अग्रिम जमानत की अर्जी दाखिल की है।

अधिवक्ता ने दावा किया कि कथित पीड़िता और उसका पुरुष साथी वर्ष 2020 से ही प्रिसं राज से रुपयों की उगाही और ब्लैकमेल कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कथित पीड़िता और उसके पुरुष साथी ने प्रिंस राज से एक करोड़ रुपये की मांग की थी और राशि का भुगतान नहीं करने की स्थिति में उनके खिलाफ फर्जी मुकदमा दर्ज करवाने की धमकी दी थी।

गौरतलब है कि महिला ने इस साल मई में दिल्ली के कनॉट प्लेस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी और दिल्ली की अदालत के निर्देश पर पुलिस ने नौ सितंबर को प्रिंस राज के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की। महिला ने दावा किया है कि वह लोजपा कार्यकर्ता है और उसने प्रिंस राज पर बेहोशी की हालत में उसके साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है।

Leave a Reply