CM बघेल ने ट्वीट कर दी मिडिया को धमकी, कहा- ” कान खोलकर सुन,,,, अपनी सिमा मत भूलना”, निविका कुमार पर गरमाए कांग्रेसी

CHATTISGARH NATIONAL POLITICAL

रायपुर| छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने आधी रात को ट्वीट कर दी मिडिया को धमकी| दरअसल, टीवी मिडिया “टाइम्स नाउ” पर पंजाब कॉन्ग्रेस में सियासी उथल-पुथल को लेकर के बहस चल रही थी| इसी दौरान एंकर नविका कुमार की जुबान फिसल गई। बाद में इसके लिए उन्होंने खेद भी जताया। लेकिन फिर भी कॉन्ग्रेस समर्थक उन्हें निशाना बनाने से नहीं चूके। कॉन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तो 29 सितंबर आधी रात ट्वीट कर मीडिया को धमका दिया।

बघेल ने ट्वीट कर कहा, “कान खोलकर सुन लिया जाए। राहुल गाँधी विपक्ष के मुख्य नेता हैं। कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता उनके खिलाफ ‘अपमानजनक’ शब्द बर्दाश्त नहीं करेंगे। हम हर मीडिया हाउस का सम्मान करते हैं जो लोकतंत्र का एक जिम्मेदार चौथा स्तंभ है। लेकिन अपनी सीमा मत भूलना।”

असलियत यह है कि वायनाड के सांसद राहुल गाँधी विपक्ष के नेताओं में से एक हैं। कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष वह नहीं उनकी माँ सोनिया गाँधी हैं और न ही वह लोकशाभा में विपक्ष के नेता हैं|

बहरहाल, भूपेश बघेल के धमकी भरे बयान ने नेटिजन्स को उन्हें घेरने का मौका दे दिया।

दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने सवाल किया कि बघेल मुख्यमंत्री हैं या गुंडा। उन्होंने याद दिलाया कि 1984 में इंदिरा गाँधी की हत्या के बाद राजीव गाँधी द्वारा इस्तेमाल की गई इसी तरह की भाषा के कारण हजारों सिखों की हत्या हुई थी।

एक अन्य ट्विटर यूजर ने बताया कि बघेल आधी रात को राहुल गाँधी को दिए गए उपनाम ‘पप्पू’ के लिए ट्वीट कर रहे हैं। उन्होंने कहा, “पप्पू के लिए रात में 12 बजे ट्वीट हो रहा। इतना ध्यान अपने राज्य में देते तो इस्तीफ़ा देने की नौबत ना आती।” उल्लेखनीय है कि इस समय छत्तीसगढ़ कॉन्ग्रेस में भी उथल पुथल चल रही है और दूसरा धड़ा सीएम पद पर अपनी दावेदारी जता रहा है।

एक ट्विटर यूजर ने बघेल को अपने खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी देते हुए लिख दिया कि राहुल गाँधी गधा है।

स्वराज्य की पत्रकार स्वाति गोयल शर्मा ने बताया कि किस तरह इस तरह की धमकी ‘सर तन से जुदा’ से सिर्फ एक कदम दूर थी। ‘सर तन से जुदा’ कट्टर इस्लामवादियों का नारा है जो ईशनिंदा के आरोपों पर सिर काटने की देते रहते हैं।

बघेल की ट्वीट की वजह नविका कुमार का वह शो माना जा रहा है जिसमें वह पंजाब के राजनीतिक संकट पर चर्चा कर रही थीं। शो के दौरान उन्होंने कहा, “…मेरी छुट्टी चाहिए और मैं छुट्टी पर जाऊँगा और जिस दिन वह लौटते हैं, bl**dy… मुझे खेद है, क्षमा करें, जिस दिन वह लौटते हैं उस दिन पंजाब सुर्खियों में रहता है…।”

बस फिर क्या था कॉन्ग्रेस समर्थकों ने ट्विटर पर ‘कचरा नविका’ ट्रेंड कराया और उनके गलती से निकले ‘bl**dy’ शब्द के लिए उन्हें गालियाँ दीं।

बाद में नविका कुमार ने बातचीत के प्रवाह में अपनी क्षणिक चूक और ऑन एयर हुए ‘असंसदीय शब्द’ का उपयोग करने के लिए सोशल मीडिया के जरिए माफी माँगी

उन्होंने स्पष्टीकरण दिया कि कैसे इस शब्द का उपयोग करने के लिए उन्होंने तुरंत माफी भी माँगी थी। हालाँकि, इसके बावजूद कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता, नेता और समर्थक संतुष्ट नहीं थे। उन्होंने उसे ऑफ एयर करने की माँग की।

कुछ लोगों ने यह भी माँग की कि वह एक वीडियो माफी जारी करें और राहुल गाँधी के खिलाफ कभी भी ‘इस पागलपन को दोबारा नहीं’ दोहराने का वादा करें।

जाहिर तौर पर कॉन्ग्रेसियों के लिए ऑन-एयर माफी से कम कुछ भी काम नहीं करेगा। गौरतलब है कि कॉन्ग्रेस के फेवर वाले मीडिया घरानों के साथ-साथ एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया और अन्य मीडिया संगठनों ने अभी तक बघेल की मीडिया घरानों की धमकी पर कोई टिप्पणी नहीं की है।

Leave a Reply