चेन्नई| दक्षिण भारतीय राज्यों तमिलनाडु (Tamilnadu) और आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) समेत केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी में भीषण बारिश से हालात बिगड़ रहे हैं. मौसम विभाग के डीजीजीएम डॉ. एस बालाचंद्रन का कहना है कि आज तमिलनाडु के पुडुक्कोट्टई, रमंथापुरम, करईकाल और कल कुड्डालोर, विलुपुरम, शिवगंगा, रमंथापुरम, करईकाल जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है. वहीं पुडुचेरी के शिक्षा मंत्री ए नम:शिवायम ने घोषणा की है कि लगातार बारिश के कारण 10 और 11 नवंबर को सभी स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे.

इसके अलावा आंध्र प्रदेश में अभी बारिश का संकट और ज्यादा गहराने की आशंका व्यक्त की गई है. मौसम विभाग के मुताबिक कल और परसों भीषण बारिश हो सकती है. यही कारण है कि दक्षिणी आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु से लगे समुद्री किनारों के मछुआरों को दो दिन की चेतावनी जारी की गई है.

बारिश से जुड़ी घटनाओं में मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई पांच

तमिलनाडु में राजधानी चेन्नई समेत कई क्षेत्रों में बीते दो दिनों से भारी बारिश का कहर जारी है. राज्य में बारिश से जुड़ी घटनाओं में मरने वालों की संख्या बढ़कर पांच हो गई है. वहीं, करीब 60 घरों को नुकसान पहुंचने की खबर है. भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने जानकारी दी है कि राज्य में अगले तीन दिनों तक भारी बारिश की संभावना है. भारी बारिश, बाढ़ और जलजमाव की गंभीर स्थिति के मद्देनजर NDRF की टीमें तैनात हैं. IMD ने राज्य के 14 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

चेन्नई में बुरे हालात

राजधानी चेन्नई समेत आसपास के इलाकों में भारी बारिश के चलते इलाकों में पानी भर गया है. राज्य में अतिरिक्त पानी को निकालने के लिए तीन जलाशयों- पूंडी, चेंबरमबक्कम और पुझल के गेट खोले गए हैं. विभाग ने कहा कि अगले 24 घंटों के दौरान दक्षिण-पूर्वी बंगाल की खाड़ी और आसपास के इलाकों में कम दबाव का क्षेत्र बनने का अनुमान है. इसके 11 नवंबर की सुबह तक उत्तरी तमिलनाडु तट के पास पहुंचने और राज्य के कई क्षेत्रों में भारी वर्षा होने का अनुमान है.

By Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published.