स्मार्ट सिटी के बाद अब पीडब्ल्यूडी भी राजधानी के चौक-चौराहों को संवारने के लिए नई तरह की हेरिटेज थीम लेकर आ रहा है। इस थीम से पहला सौंदर्यीकरण रामनगर के माता कर्मा चौराहे का होगा। वहां धौलपुर स्टोन लगाया जाएगा, जो लाल किले में लगा है और हेरिटेज लुक देता है। इस प्रोजेक्ट में पीडब्ल्यूडी 35 लाख रुपए खर्च करेगा और फिर शहर के कई चौराहों को हेरिटेज (विरासत) थीम पर ही डेवलप करने की तैयारी है।

दरअसल लालकिले में लगे पत्थर दिल्ली की चांदनी चौक में भी उपयोग किए गए हैं, इसलिए माता कर्मा चौक का डिजाइन भी चांदनी चौक से कुछ मिलता जुलता है। इस चौक के लिए पीडब्ल्यूडी ने 35 लाख रुपए की कार्ययोजना बनाई है, लेकिन यह पूरी रकम अकेले चौक पर खर्च नहीं होगी। बल्कि चौराहे के आसपास के इलाके को भी हेरिटेज लुक दिया जाएगा ताकि यह बिलकुल अलग लगे।

इसके अलावा चौराहे के चौराहे के आसपास लगे बेतरतीब तारों को भी हटाया जाएगा। वहां लैंडस्केप, वॉल पेटिंग जैसे काम के अलावा चौराहे के आसपास के दायरे में नई डिजाइन की स्ट्रीट लाइटें भी लगाई जाएंगी। यह लाइटें भी 19वीं शताब्दी की लाइट्स की थीम पर होंगी। अफसरों ने बताया कि कर्मा माता चौक के प्रोजेक्ट का डिजाइन फाइनल हो गया है।

इसके बाद जगन्नाथ चौराहा : कर्मा चौक के बाद शहर के आधा दर्जन चौराहों को हेरिटेज लुक देने की तैयारी है। दूसरा चौराहा जगन्नाथ चौक होगा, जिसका ड्राइंग-डिजाइन तैयार किया जा रहा है। अफसरों के मुताबिक कर्मा चौक को तीन माह में डेवलप करने के बाद इस चौराहे के साथ-साथ कुछ और जगह का सौंदर्यीकरण भी शुरू कर दिया जाएगा। पीडब्ल्यूडी इसके अलावा जगन्नाथ चौक को भी डेवलप करेगा

Leave a Reply