अब क्रिकेट में बैट्समैन नहीं “बैटर” कहा जायेगा, :क्रिकेट के नियम बनाने वाली संस्था MCC ने लैंगिक समानता के आधार पर किया फैसला

INTERNATIONAL SPORTS

नई दिल्ली| क्रिकेट के नियम तय करने वाली संस्था मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (MCC) ने इस खेल में लैंगिक समानता को बढ़ावा देने की वकालत की है। क्लब ने क्रिकेट के नियमों में बदलाव करते हुए बैट्समैन या बैट्सवुमन की जगह पर जेंडर न्यूट्रल शब्द बैटर इस्तेमाल करने का फैसला किया है।

MCC ने कहा है – जेंडर न्यूट्रल शब्द इस्तेमाल करने से क्रिकेट के सबके लिए एक समान होने के स्टेटस को और मजबूती मिलेगी। अब हमें ऐसे शब्द इस्तेमाल नहीं करने चाहिए जिससे जेंडर के आधार पर अंतर या भेदभाव हो। MCC कमेटी ने सर्वसम्मति से इस फैसले को तत्काल लागू करने का फैसला किया है।

“बैटर” शब्द का प्रयोग कई संस्थाए पहले से करती आ रही है

MCC ने इस बदलाव को https://www.lords.org/mcc/about-the-laws-of-cricket पर पब्लिश कर दिया है। कई सरकारी संस्थाएं और मीडिया हाउस पहले से ही बैट्समैन की जगह बैटर शब्द का इस्तेमाल कर रही हैं। MCC के असिस्टेंट सेक्रेट्री (क्रिकेट ऑपरेशंस) जेमी कॉक्स ने कहा- MCC क्रिकेट को सभी के लिए एक मानता है और यह कदम आधुनिक समय में खेल के बदलते स्वाभाव को पहचानता है।’

2017 में बैट्समैन शब्द को ही जारी रखा गया था

MCC इस मसले पर लंबे समय से विचार कर रही है। हालांकि, नियमों के पिछले ड्राफ्ट में बदलाव नहीं हो पाया था। तब इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) और महिला क्रिकेट से जुड़ी अहम हस्तियों से बात कर बैट्समैन शब्द को जारी रखने पर सहमति बनी थी। कॉक्स ने कहा कि बॉलर और फील्डर जैसे शब्द पहले से जेंडर न्यूट्रल हैं। अब हमने बैट्समैन की जगह बैटर शब्द को अपनाया है।

Leave a Reply