रायपुर। छत्तीसगढ़ के रायपुर में लगतार चाकूबाजी से शहर क्राइम गढ़ बनने की दिशा में है| राजधानी में पुलिस की गाड़ी का पहरा जरूर है लेकिन क्राइम की दस्तक से दूर है| 12 सितंबर की रात 9 बजे आमानाका इलाके के मोहबाबाजार के डबरापारा में एक युवक की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। चाकू मारने का आरोपित उसका दोस्त ही है। बताया जा रहा है कि दोनों नशे की हालत में थे। दोनों के बीच किसी बात को लेकर विवाद इतना बढ़ा कि दोस्त ने ही दोस्त की जान ले ली। फिलहाल आरोपित फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। मिली जानकारी के मुताबिक, आमानाका थाना पुलिस मोहबाबाजार के डबरापारा निवासी पेशे से वाहन चालक मृतक खुचखुच तांडी (20) 12 सितंबर की रात साढ़े आठ से नौ बजे के बीच डबरापारा इलाके के सब्जी बाजार के पास में बैठा था, तभी वहां पर मुहल्ले का ही रहने वाला रितिक सोना (20) नशे की हालत में पहुंचा। पुरानी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ा कि गुस्से में आकर रितिक ने खुचखुच तांडी के सीने, पेट समेत शरीर के अन्य हिस्सों में चाकू से ताबड़तोड़ कई वार कर दिए। इस हमले में अत्यधिक खून बहने से खुचखुच की मौके पर ही मौत हो गई। हत्या की वारदात के बाद आरोपित भाग निकला। सूचना मिलते ही घटनास्थल पर एडिशनल एसपी, आजाद चौक सीएसपी और आमानाका थाना प्रभारी पहुंचे। मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए आंबेडकर अस्पताल भेज दिया गया है। फिलहाल हत्या की स्पष्ट वजह साफ नहीं हो पाई है। आजाद चौक सीएसपी पुष्पेंद्र नायक का कहना है कि प्रारंभिक जांच में हत्या का कारण तात्कालिक विवाद सामने आया है। मृतक और आरोपित परिचित है। आरोपित के पकड़े जाने के बाद ही हत्या की वजह का पता चल पाएगा।

By Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published.