पानीसागर: त्रिपुरा के पानीसागर में अफवाह और सोशल मीडिया पर फेक वीडियो डालने वालों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है. पुलिस ने कहा है कि यहां मस्जिद पर कोई हमला नहीं हुआ है. इससे पहले सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए वीडियो में दावा किया गया था कि विश्व हिंदू परिषद (VHP) की एक रैली के दौरान एक मस्जिद में तोड़फोड़ की गई.

किसी भी मस्जिद में आग की कोई घटना नहीं हुई- पुलिस

मस्जिद में आग लगाने की अफवाह को लेकर त्रिपुरा पुलिस आईजीपी कानून व्यवस्था सौरभ त्रिपाठी ने कहा है, ”पानीसागर में कल की घटना के संबंध में फर्जी खबरें और अफवाहें फैलाई जा रही हैं. किसी भी मस्जिद में आग की कोई घटना नहीं हुई. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल फर्जी पोस्ट के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.” उन्होंने कहा कि राष्ट्र-विरोधी और परेशान करने वाले तत्वों ने सोशल मीडिया पर फेक खबरें और वीडियो शेयर किए हैं. उन फर्जी पोस्टों में दिखाए गए वीडियो और तस्वीरों का वास्तविक घटना से कोई संबंध नहीं है.

सौरभ त्रिपाठी ने कहा, ”मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि त्रिपुरा में मस्जिद में आग लगाने की कोई घटना नहीं हुई. पुलिस ने विशिष्ट शिकायतें दर्ज की हैं और जो कुछ भी हुआ है, उसकी जांच शुरू कर दी है. सोशल मीडिया में दुर्भावनापूर्ण अभियान के संबंध में मामले भी दर्ज किए गए हैं.” उन्होंने कहा कि सभी मामलों में कानून के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी.

क्या है पूरा मामला?

बता दें कि उत्तर त्रिपुरा जिले के पानीसागर में विश्व हिंदू परिषद के एक रैली के दौरान एक मस्जिद में तोड़फोड़ करने का दावा किया गया था. जिसके बाद इलाके में स्थिति तनावपूर्ण हो गई थी और कई जगह छिटपुट हिंसा भी देखी गई. हिंसा के बाद पुलिस ने इलाके में धारा 144 लागू कर दी थी और बाकी मस्जिदों को सुरक्षा भी मुहैया कराई थी. बांग्लादेश में हाल में हिन्दुओं पर हुए हमले के विरोध में विहिप ने रैली का आयोजन किया था.

Leave a Reply