लखनऊ| छत्तीसगढ़ के जशपुर में घटी दुर्भाग्यपूर्ण घटना को लेकर यूपी और राज्य के मुख्यमंत्री आमने-सामने हैं. जहां यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने जशपुर में हुई घटना को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का घेराव किया. वहीं सीएम भूपेश बघेल ने उनको जवाब देते हुए कहा कि लखीमपुर खीरी मामले में यूपी पुलिस केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे को बचा रही थी. जबकि जशपुर मामले में अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई और पीड़ितों के लिए सहायता राशि की घोषणा की गई.

सीएम ने आगे कहा कि मैं कल कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में भाग लेने जा रहा हूं, जिसमें आगामी विधानसभा चुनावों के साथ-साथ संगठनात्मक चुनावों पर भी चर्चा की जाएगा. इससे पहले जशपुर में हुई घटना पर ट्वीट करते हुए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि छत्तीसगढ़ के जनपद जशपुर में एक धार्मिक जुलूस पर अनियंत्रित वाहन द्वारा लोगों की कुचले जाने की दुर्घटना में हुई मृत्यु अत्यंत दुखद है. छत्तीसगढ़ सरकार से घायलों के समुचित उपचार की व्यवस्था करने और पीड़ितों को हर संभव सहायता प्रदान करने की अपेक्षा है. मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ है. प्रभु श्री राम से घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना है.

यह है पूरा मामला

जानकारी के अनुसार शुक्रवार को छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के पत्थलगांव में दशहरे की झांकी में शामिल 20 लोगों को तेज रफ्तार कार ने कुचल दिया. घटना तब हुई जब लोग दशहरा की झांकी देखने गए थे. हादसे में चार लोगों की मौत हो गई है. वहीं कई गंभीर रूप से घायल है. घटना के तत्काल बाद स्थानीय लोगों की मदद से सभी घायलों को इलाज के लिए पत्थलगांव सिविल अस्पताल ले जाया गया. मामले में आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया गया है. वहीं सीएम भूपेश बघेल ने हादसे पर शोक जताया है.

पुलिस अधीक्षक जशपुर कार्यालय के जानकारी अनुसार सड़क दुर्घटना की घटना के दोनों आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया गया है. आरोपी बबलू विश्वकर्मा निवासी सिंगरौली, बैढ़न और शिशुपाल साहू निवासी बरगवान थाना बरगवां जिला सिंगरौली को गिरफ्तार किया गया है. दोनों आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. बताया गया कि दोनों आरोपी मध्य प्रदेश के निवासी हैं और छत्तीसगढ़ से गुजर रहे थे.

Leave a Reply